Motivational Stories (प्रेरक कहानियां)

एकता में बल है। Unity Motivational Story in Hindi

नमस्कार दोस्तों, मुझे उम्मीद है कि आप सभी अच्छे होंगे। दोस्तों आप सभी ने बचपन से एक बात तो सुनी ही होगी। एक लकड़ी को तोड़ने की कोशिश की जाए तो वो आसानी से टूट जाती है, और अगर लकड़ी के बंडल को तोड़ने की कोशिश की जाए तो वो आसानी से नहीं टूटता। इस बात को अगर सीधे तरिके से समझे तो हम कह सकते है की एकता में बल है। इसी बात को अच्छे तरिके से समझाने के लिए मैं आपको एक Motivational Story सुनाता हूँ। एकता में बल है। Unity Motivational Story in Hindi

एकता में बल है। Unity Motivational Story in Hindi

एकता में बल है। Unity Motivational Story in Hindi

एक आश्रम में दो बालक रहते थे। उन दोनों की आपस में बहुत लड़ाई होती थी। इतना ही नहीं वे दोनों एक दूसरे को हमेशा ही नीचा दिखाने में लगे रहते थे। एक दिन उनके गुरु ने उन्हें बुलाया और उन्हें एकता के बारे में समझाने के लिए Motivational Story सुनाई। उन्होंने बताया की एक बार एक जंगल में एक भैंस और घोड़े की लड़ाई हो गयी।

बुरे वक्त में इस एक चीज को मत छोड़ना। Hindi Motivational Story for Success in Life

भैंस के बड़े बड़े सींग थे। उसने सींग मार मार कर घोड़े को अधमरा कर दिया। घोड़े को जब लगा की वह भैंस से जीत नहीं सकता। कुछ समय बाद वह मौका देखकर वहाँ से भाग गया। भागते भागते घोड़ा मनुष्य के पास पहुँचा और उससे सहायता माँगी। मनुष्य ने घोड़े से कहा – मैं भैंस से नहीं जीत सकता क्योकि वह अधिक बलवान है और उसके बड़े बड़े सींग है।

यह सुनकर घोड़े ने कहा – तुम एक डंडा लेकर मेरी पीट पर सवार हो जाओ। मैं भैंस के आसपास तेज तेज दौड़ता रहूँगा और तुम उसे डंडे से मार मार कर अधमरा कर देना और फिर उसे एक रस्सी से बाँध लेना। मनुष्य ने कहा – मैं उसे बाँधकर क्या करुँगा। घोड़े ने कहा – भैंस बहुत ही मीठा दूध देती है। तुम उसे पी सकते हो।

४ सवाल बदल देंगे जिंदगी। 4 Questions will Change Life Motivational Story

मनुष्य ने घोड़े की बात मान ली। वह घोड़े की पीट पर सवार हो गया। उसने डंडे से भैंस को मार मार कर अधमरा कर दिया। उसके बाद उसने उसे एक रस्सी से बाँध लिया। घोड़े ने मनुष्य से कहा – अब मैं चलता हूँ। मेरे चरने का समय हो गया है। यह सुनकर मनुष्य हँसने लगा और घोड़े को भी के रस्सी से बाँध लिया। इसके बाद उसने घोड़े से कहा – मैं रोज भैंस का दूध पिऊंगा और तुम्हारे ऊपर सवार होकर रोज घूमने जाया किया करुँगा। यह सुनकर घोड़े को बहुत पछतावा हुआ।

दोस्तों इस Motivational Story से मैं आपको ये समझाना चाहता हूँ की अगर तुम आपस में ही लड़ते रहोगे तो कोई तीसरा इंसान तुम्हारा फायदा उठा लेगा। इस बात को तुम आज समझो या फिर कल समझो लेकिन सच्चाई ये है की एकता में ही बल है। मुझे उम्मीद है की आपको ये Motivational Story अच्छी लगी होगी। एकता में बल है। Unity Motivational Story in Hindi

पुण्य कैसे मिलता है – How to Get Virtue Motivational Story in Hindi

Note – The Motivational Story and Inspirational Story shared here is not my original creation. I have read or heard it before and I am just providing a Hindi version of the same with some modifications. I just want to help the people to get more easily through difficult times. Thank You

इन्हें भी पढ़ना मत भूले

अगर आप ऐसी ही और भी  Video को Animation के साथ देखना चाहते है। आप मुझे मेरे YouTube Channel पर Subscribe कर सकते है। Thank You

दोस्तों यदि आपके पास Hindi में कोई भी Article, Motivational Stories in Hindi and Inspirational Stories in Hindi या कोई भी अच्छी जानकारी है जो किसी दूसरे के काम आ सके तो आप उस जानकारी को हमारे साथ share जरूर कीजिए। आप हमें उस जानकारी को अपने photo के साथ email कर सकते है। हमारी email id है helphelp24x7@gmail.com अगर हमे आप के द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो हम उसे आपके नाम और photo के साथ अपनी website पर publish करेंगे। Thank You

5 thoughts on “एकता में बल है। Unity Motivational Story in Hindi”

  1. I as well as my guys were actually reading the nice tips and hints located on the website then the sudden I had an awful feeling I never thanked the web site owner for those tips. All of the people had been as a consequence excited to see them and have sincerely been having fun with them. Many thanks for getting so considerate and for going for this form of very good subjects most people are really eager to learn about. Our own honest regret for not expressing gratitude to you earlier.

  2. I am writing to let you know what a cool encounter my child undergone reading through your web site. She came to understand lots of issues, most notably how it is like to have a wonderful giving character to make many more completely thoroughly grasp selected complicated things. You truly did more than my desires. Thank you for giving these insightful, safe, explanatory and as well as unique tips about this topic to Ethel.

  3. Aw, this was a very nice post. In concept I want to put in writing like this moreover ?taking time and precise effort to make an excellent article?however what can I say?I procrastinate alot and in no way appear to get one thing done.

  4. Needed to create you that bit of observation to give many thanks over again over the marvelous opinions you’ve shown at this time. It has been really wonderfully generous of people like you to present without restraint just what many people could possibly have offered for an e-book to help make some dough on their own, even more so now that you could have tried it if you ever wanted. Those tricks in addition worked to provide a good way to be sure that most people have the identical dream similar to my personal own to know the truth much more regarding this problem. I am certain there are numerous more enjoyable instances in the future for those who scan through your blog post.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *