Motivational Stories (प्रेरक कहानियां)

काम या फिर आराम – Story for Kids in Hindi

नमस्कार दोस्तों, मुझे उम्मीद है कि आप सभी अच्छे होंगे। दोस्तों आपको काम के समय काम करना चाहिए और आराम के समय आराम करना चाहिए। यही जिंदगी का नियम है। अगर आपने इस नियम को तोड़ा तो आपकी स्वर्ग जैसी जिंदगी कब नरक बन जायेगी। आपको पता भी नहीं चलेगा। ये ही बात समझाने के लिए मैं आपको एक Motivational Story सुनाता हूँ। काम या फिर आराम – Story for Kids in Hindi

काम या फिर आराम – Story for Kids in Hindi

काम या फिर आराम – Story for Kids in Hindi

एक इंसान बहुत ही आलसी था। वह एक ऐसी जिंदगी चाहता था जिसमे, वह बस आराम से बिस्तर पर सोता रहे। इतना ही नहीं अगर उसे किसी भी चीज की जरुरत हो। तो वह उसे बिस्तर पर ही मिल जाये। उसकी इस आदत से उसके सभी घरवाले परेशान थे। घरवालों ने उसे सुधारने के लिए उसकी इन इच्छाओं को पूरा ही नहीं किया।

सोच बदल देगी जिंदगी – Real Life Inspirational Stories in Hindi

एक दिन उसकी मृत्यु हो गयी। मृत्यु के बाद देवदूत उसे स्वर्ग ले गये। स्वर्ग बहुत ही सूंदर था। जिसे देखकर वह बहुत ही खुश हो गया। स्वर्गदूत ने उस इंसान को उसका घर दिखाया और उससे कहा – आपको यहां से कहि भी जाने की आवश्यकता नहीं है। सब कुछ आपको यही पर मिल जाएगा। ये सभी दास दासियाँ आपके हर हुक्म को पूरा कर देगी।

यह सुनकर वह इंसान बहुत ही खुश हो गया और सोचने लगा की काश मैं यहां पर पहले ही आ गया होता। मैंने घर पर जो कष्ट सहे है। वे मुझे उठाने ही नहीं पड़ते। अब वह इंसान दिन रात जम कर सोता और उसे जो कुछ भी चाहिए होता था। उसके लिए वही पर आ जाता था। कुछ दिनों बाद वह इन कामो से बोर होने लगा।

सफलता कैसे प्राप्त करे – Very Short Story in Hindi

जब भी वह अपने बिस्तर से उठने की कोशिश करता। दास दासियाँ उसे रोक देती। इसी तरह बहुत समय बीत गया। धीरे धीरे उन इंसान को अब ये आराम की जिंदगी बोझ लगने लगी। स्वर्ग में उसका मन लगना बंद हो गया। अब वह कुछ काम करना चाहता था। एक दिन उसने देवदूत से कहा – मैं अब इस जिंदगी से बोर हो चुका हूँ। अब मैं कुछ काम करना चाहता हूँ।

देवदूत ने कहा – आपको यहां काम करने के लिए नहीं बल्कि आराम करने के लिए बुलाया गया है। आप भी तो ऐसी ही जिंदगी चाहते थे। अब आप बस हमे अपनी इच्छाये बताइये। हम आपकी सभी इच्छाओं को पूरा कर देंगे। उस इंसान ने देवदूत से माँफी मांगी और कहा – अब मेरी कोई भी इच्छा नहीं है।

मेरे पास email id नहीं है। इसलिए मैं अरबपति हूँ। Moral Stories for Childrens in Hindi

मैं अब कुछ काम करना चाहता हूँ। मेरी सब कुछ समझ में आ गया है। देवदूत ने उस इंसान से कहा – मुझे भी समझाओ की तुम्हारी समझ में क्या आया है। उस इंसान ने कहा – मैं इन सब से ये ही समझा की किसी भी इंसान को काम के समय काम और आराम के समय आराम करना चाहिए। इन दोनों में से एक भी चीज अधिक हो जाए तो जीवन का आनंद ख़त्म हो जाता है।

दोस्तों इस Inspirational Story से मैं आपको ये समझाना चाहता हूँ। की अपने काम को कभी भी बोझ न समझे और समय पर पूरा करे। आप जितना मन लगाकर काम करेंगे। काम उतना ही अच्छा होगा और काम करने में उतना ही मजा भी आएगा। जब भी आपको काम बोझ लगने लगे या फिर आलस आने लगे। ऐसी अवस्था में एक बात हमेशा याद रखना। आलसी लोगो के लिए एक दिन स्वर्ग भी नरक बन जाता है। काम या फिर आराम – Story for Kids in Hindi

सब कुछ मिलेगा लेकिन सही समय पर। Motivational Stories in Hindi for Students

Note – The Motivational Story and Inspirational Story shared here is not my original creation. I have read or heard it before and I am just providing a Hindi version of the same with some modifications. I just want to help the people to get more easily through difficult times. Thank You

इन्हें भी पढ़ना मत भूले

अगर आप ऐसी ही और भी  Video को Animation के साथ देखना चाहते है। आप मुझे मेरे YouTube Channel पर Subscribe कर सकते है। Thank You

दोस्तों यदि आपके पास Hindi में कोई भी Article, Motivational Stories in Hindi and Inspirational Stories in Hindi या कोई भी अच्छी जानकारी है जो किसी दूसरे के काम आ सके तो आप उस जानकारी को हमारे साथ share जरूर कीजिए। आप हमें उस जानकारी को अपने photo के साथ email कर सकते है। हमारी email id है helphelp24x7@gmail.com अगर हमे आप के द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो हम उसे आपके नाम और photo के साथ अपनी website पर publish करेंगे। Thank You

5 thoughts on “काम या फिर आराम – Story for Kids in Hindi”

  1. I wanted to type a simple message to express gratitude to you for some of the nice information you are writing at this site. My rather long internet look up has finally been paid with pleasant suggestions to write about with my pals. I ‘d believe that we visitors are quite fortunate to be in a decent community with many special people with great plans. I feel very grateful to have seen the webpage and look forward to tons of more awesome moments reading here. Thank you once more for all the details.

  2. I want to express some thanks to the writer for rescuing me from this type of situation. After scouting through the the web and getting concepts which are not beneficial, I thought my entire life was over. Living minus the approaches to the issues you’ve resolved all through your good short post is a crucial case, as well as the kind that might have in a negative way damaged my entire career if I hadn’t discovered your web blog. Your good capability and kindness in touching a lot of things was precious. I’m not sure what I would have done if I hadn’t come upon such a solution like this. I can also now look ahead to my future. Thanks for your time so much for your reliable and effective help. I will not be reluctant to recommend your site to anybody who requires care on this problem.

  3. I needed to create you the tiny observation to finally say thank you yet again on your gorgeous opinions you’ve featured above. It has been quite shockingly open-handed with you to allow easily all many individuals would have offered for sale for an electronic book to help with making some profit for their own end, even more so considering that you could possibly have done it if you considered necessary. These good tips as well acted as the great way to be aware that some people have the identical fervor really like my personal own to find out lots more in terms of this issue. Certainly there are millions of more pleasant periods ahead for people who take a look at your blog.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *