Motivational Stories (प्रेरक कहानियां)

सजा जरूर मिलेगी – Inspiring Short Stories with Moral

Hello दोस्तों मुझे उम्मीद है कि आप सभी अच्छे होंगे। दोस्तों अगर आप दुष्ट प्रकृति के इंसान है या फिर आपने कुछ गलत किया है। आपको सजा जरूर मिलेगी। इसलिए कुछ गलत करना तो बहुत दूर की बात है। आपको गलत विचार अपने मन में भी नहीं लाने चाहिए। इसी बात को अच्छे तरिके से समझाने के लिए। मैं आपको एक Motivational Story सुनाता हूँ। सजा जरूर मिलेगी – Inspiring Short Stories with Moral

सजा जरूर मिलेगी – Inspiring Short Stories with Moral

सजा जरूर मिलेगी - Inspiring Short Stories with Moral

एक बार एक लालची कौवा एक घर के पास से गुजर रहा था। तभी उसकी नजर रसोई पर पड़ी। रसोई में मछली बनाई जा रही थी। यह देखकर कौवे के मुँह में पानी आ गया। उसने रसोईघर में घुसने की सोची। लेकिन उसकी समझ में नहीं आ रहा था। की कैसे घुसू। तभी उसकी नजर कबूतर के एक घोसले पर पड़ी। उसने सोचा की अगर मैं कबूतर से दोस्ती कर लू तो शायद मैं रसोईघर में घुस सकता हूँ।

क्यों लोगों को जीवन का लक्ष्य नहीं मिलता। Powerful Motivational Story

कबूतर जब दाना चुगने के लिए रसोईघर से बाहर निकला। तो कौवा भी उसके पीछे पीछे चल दिया। कबूतर ने पीछे मुड़कर देखा और कौवे से पूछा – तुम मेरा पीछा क्यों कर रहे हो। कौवे ने कहा – तुम मुझे बहुत अच्छे लगते हो। मैं तुमसे दोस्ती करना चाहता हूँ। यह सुनकर कबूतर ने कहा – हम दोस्त कैसे बन सकते है। मैं बीज खाता हूँ, और तुम कीड़े खाते हो।

कौवे ने चालाकी दिखाते हुए कहा – मेरे पास घर नहीं है। इसलिए हम साथ तो रह ही सकते है। रही बात भोजन की हम भोजन खोजने साथ साथ आयेगे। तुम अपना भोजन खोजना। मैं अपना भोजन खोजूँगा। कबूतर ने कहा – चलो ठीक है। अब घर चलते है। दोनों के दोनों घर पहुँच गये।

बड़ा बनना है तो। Motivational Story for Students in Hindi

अगले दिन कबूतर ने कौवे को खाना खोजने के लिए साथ चलने को कहा। कौवे ने बोला – आज मेरी तबीयत खराब है। तुम ही चले जाओ। कबूतर अकेला ही चला गया। रसोईघर में आज फिर से मछली बनाई जा रही थी। खाना तैयार हो चुका था। कौवे के मुँह में मछली को देखकर पानी आ रहा था। जैसे ही घर का मालिक रसोईघर से बाहर निकला।

कौवे ने मछली को देखकर खाना शुरू कर दिया। मालिक जब वापस आया तो कौवे को मछली खाते देखकर। उसे बहुत गुस्सा आया। गुस्से में उसने कौवे को पकड़कर उसकी गर्दन मरोड़ दी। खाना खोजने के बाद कबूतर जब वापस आया तो उसने कौवे की हालत देखी। कौवे की ऐसी हालत देखते ही वह सब कुछ समझ गया।

Bill Gates Story in Hindi । बड़ा बनना है तो मान लो Bill Gates की ये बात।

दोस्तों इस Motivational Story से मैं आपको ये समझाना चाहता हूँ। की बुरा काम करने वाले या फिर बुरी सोच रखने वाले लोगों के साथ हमेशा बुरा ही होता है। अगर आपने कुछ गलत किया है। तो आपको सजा जरूर मिलेगी। आज नहीं तो कल मिलेगी। (सजा जरूर मिलेगी – Inspiring Short Stories with Moral)

Note – The Motivational Story and Inspirational Story shared here is not my original creation. I have read or heard it before and I am just providing a Hindi version of the same with some modifications. I just want to help the people to get more easily through difficult times. Thank You

इन्हें भी पढ़ना मत भूले

अगर आप ऐसी ही और भी  Video को Animation के साथ देखना चाहते है। आप मुझे मेरे YouTube Channel पर Subscribe कर सकते है। Thank You

दोस्तों यदि आपके पास Hindi में कोई भी Article, Motivational Story and Inspirational Story या कोई भी अच्छी जानकारी है जो किसी दूसरे के काम आ सके तो आप उस जानकारी को हमारे साथ share जरूर कीजिए। आप हमें उस जानकारी को अपने photo के साथ email कर सकते है। हमारी email id है helphelp24x7@gmail.com अगर हमे आप के द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी तो हम उसे आपके नाम और photo के साथ अपनी website पर publish करेंगे। Thank You

3 thoughts on “सजा जरूर मिलेगी – Inspiring Short Stories with Moral”

  1. Thank you for all of the efforts on this web page. Gloria really loves setting aside time for investigation and it is easy to see why. Almost all know all concerning the dynamic mode you give effective tricks via the web site and therefore boost response from some others on this content then my princess has been discovering a great deal. Take advantage of the remaining portion of the year. You’re the one conducting a remarkable job.

  2. I wanted to create you that very little word to help give thanks as before over the fantastic tricks you’ve featured at this time. It’s really seriously generous of you to present openly exactly what most of us would’ve sold as an e-book in making some dough for their own end, most notably now that you could have done it if you ever desired. Those things in addition worked as a great way to fully grasp the rest have the identical eagerness like my very own to find out somewhat more concerning this problem. I am certain there are a lot more fun opportunities in the future for folks who look into your blog post.

  3. I wish to convey my gratitude for your kind-heartedness in support of folks who have the need for guidance on this particular niche. Your real commitment to passing the solution all-around had become really useful and have frequently made people just like me to get to their desired goals. Your insightful tutorial denotes a great deal a person like me and especially to my peers. Thanks a lot; from everyone of us.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *